इंदिरा गाँधी पेंशन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

Indira Gandhi Pension Yojana | इंदिरा गाँधी पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन | Indira Gandhi National Old Age Pension Scheme | इंदिरा गाँधी पेंशन स्कीम

नमश्कार दोस्तप जैसा की आप सभ जानते ही है देश में बहुत से विकलांग, वृद्धजन , महिलाये गरीब है जिनके पास आये का कोई स्रोत ही नहीं है वह किसी निर्भर हैं अपने खर्चे के लिए ऐसे ही नागरिको की सहायता के लिए देश की सरकार समय समय पर कई प्रकार शुरू करती है। जिससे इनको आर्थिक मदत मिले एव साड़ी सुविधाएं मिलें। वैसे ही आज केंद्र सरार द्वारा इन वृद्धजनं , विधवा महिलाओ एव विकलांगो के हित में उनको आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करने के लिए एक योजना को शुरू किया गया है जिसका नाम इंदिरा गाँधी पेंशन योजना है। और अगर आप इस योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं जैसे की इसके अंतग्रत आवेदन कैसे करना है या इसके लाभ एव पात्रता तो आपसे निवेदन है की हमारा यह लेख अंत तक अवश्य पढ़ें।

Indira Gandhi Pension Yojana 2022

इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया है। क्युकी आप जानते ही है कमज़ोर व्यक्ति को सब कम इज्ज़त देते है एव कोई उसको कुछ नहीं समझता। जैसे की वृध्ह्जन बुद्धे नागरिक देश में आजकल ऐसा है अगर माँ बाप बूढ़े हो जाते है तो बीटा ही नहीं पूजता उनको और विकलांग व्यक्ति तो बोज बन जाता है अपने परिवार पे और विधवा महिला भी। इन्ही सब समस्या का समाधान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के सभी गरीब विकलांग नागरिको एव वृध्जनो एव विधवा महिलाओं को सरकार द्वारा पेंशन प्रदान की जायगी। इस योजना का लाभ्केवल देश के गरीब बीपीएल परिवारों को केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जायगा।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय पेंशन स्कीम 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य केवल यही है की देश के गरीब परिवारों के प्रतियेक वृध्जनो एव विधवा महिलाए एव विकलांग नागरिको को पेंशन प्रदान की जाए। क्युकी आप जानते ही है कमज़ोर व्यक्ति को सब कम इज्ज़त देते वेह बोझ समझते है एव कोई उसको कुछ नहीं समझता। जैसे की वृध्ह्जन बुद्धे नागरिक देश में आजकल ऐसा है अगर माँ बाप बूढ़े हो जाते है तो बीटा ही नहीं पूजता उनको और विकलांग व्यक्ति तो बोज बन जाता है अपने परिवार पे और विधवा महिला भी। वृद्धजन बूढ़े होने के कारण से कोई भी काम नहीं कर पाते एव उनका शरीर जवाब देदेता है। और विकलांग नागरिक अपनी विकलांगता के कारण ज्यादा काम नहीं कर पता और अपनी आये का स्रोत नहीं बना पाटा। वेह अपनी ज़िन्दगी में बहुत सी अधिक समस्याओ का सामना करता है। और एक विधवा महिला जिसको बस घर ग्रास्थी आती है अपने पति की मृत्यु के बाद टूट सी जाती है वेह अपने ही घर में एक बोझ बन के रह जाती है। इन्ही सब नागरिको की सहायता एव इनको मासिक पेंशन प्रदान करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है।

Indira Gandhi Pension Yojana Highlights

योजना का नामIndira Gandhi Pension Yojana
इनके द्वारा शुरू की गयीCentral Government
विभागसमाज कल्याण विभाग
उद्देश्यपेंशन द्वारा वित्तीय सहायता
लाभार्थीदेश के वृद्धजन ,विधवा महिलाये ,विकलांग व्यक्ति

गांधी पेंशन इंदिरा योजना 2022 के अंतर्गत योजनाओं का प्रकार

इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के सभी गरीब विकलांग नागरिको एव वृध्जनो एव विधवा महिलाओं को सरकार द्वारा पेंशन प्रदान की जायगी। इस योजना का लाभ्केवल देश के गरीब बीपीएल परिवारों को केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जायगा। केंद्र सरार के द्वारा इस योजना के तीन प्रकार निकाले गए है।

Indira Gandhi National Old Age Pension Scheme

इस योजना के तहेत देश के सभी वृध्जनो जो 60 वर्ष सऊपर की आयु रखते है उनको केंद्र सरकार द्वारा केवल वृध्जनो को ही पेंशन के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जायगी। इच्छुक नागरिक आवेदन कर सकते हैं।

Indira Gandhi Vidhwa Pension Yojana

इस इंदिरा गाँधी विधवा पेंशन योजना के तहत जिन विधवा महिलाओ की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम है तो ऐसी महिलाओ को राज्य सरकार के द्वारा 300 रूपये प्रतिमाह की धनराशि आर्थिक सहयता के रूप में प्रदान की जाएगी।इस इंदिरा गाँधी विधवा पेंशन योजना के तहत जिन विधवा महिलाओ की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम है तो ऐसी महिलाओ को राज्य सरकार के द्वारा 300 रूपये प्रतिमाह की धनराशि आर्थिक सहयता के रूप में प्रदान की जाएगी।

इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना

Indira Gandhi Viklang Pension Yojana को देश के विकलांगता वाले व्येक्तिओ के लिए शुरु की गई है जिन विकलाँगता की आयु 80% से अधिक विकलांगता के साथ 18 वर्ष से अधिक और साथ ही बीपीएल परिवार से जुड़ा हो। इस इंदिरा गाँधी विकलांग पेंशन योजना के तहत देश के प्रत्येक विकलाँग व्यक्ति को सरकार के द्वारा पेंशन प्रदान की जाएगी।

Indira Gandhi Pension Yojana 2022 की पात्रता

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इस वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत आवेदक की आयु 60 वर्ष या फिर उससे अधिक होनी चाहिए।
  • विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत देश की प्रत्येक विधवा महिला की आयु 40 वर्ष या फिर अधिक और 59 वर्ष होनी चाहिए।
  • विकलांगता पेंशन योजना के तहत विकलाँग व्यक्ति 80 % या विक्लांग या फिर उससे अधिक होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए सभी आवेदक को भारतीय नागरिक होना चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेज़
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • पते का एक सबूत
  • पासपोर्ट साइज एक फोटो
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2022 में आवेदन कैसे करे?

देश के जो विकलाँगता विधवा एवं वृद्धजन इस Indira Gandhi Pension Scheme 2021 के तहत अपना आवेदन करना चाहते है तो आवेदक को अपनी नजदीकी पंचायत और जिला स्तर के कार्यालयों में जाकर संपर्क करना होगा। इस कार्यालय में जाकर आपको अपने आवेदन फॉर्म को भरना होगा। आवेदन फॉर्म के साथ अपने सभी मांगे गए जरुरी दस्तावेजों को इसमें अटैच करके उसी कार्यालय में जमा करना होगा। नगरीय निकाय / ग्राम पंचायतें संबंधित ULB / जनपद पंचायतों को आवेदन अग्रेषित करेंगी। संबंधित नगरीय निकाय / जनपद पंचायत को स्वीकार एवं अस्वीकार करने का पूरा अधिकार है।

लॉगिन करने की प्रक्रिया
  • आवेदक को सबसे पहले नेशनल सोशल असिस्टेंट National Social Assistant प्रोग्राम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको लॉगिन के विकल्प दिखाई देगा आपको उसपर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने अब लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस लॉगिन फॉर्म में आपको अपनी लॉगिन आईडीई पासवर्ड तथा कैप्चा कोड को ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • आप अब साइन इन के विकल्प पर क्लिक करेंगे।
  • इस प्रकार से आप लॉगिन कर पाएंगे।
Important Links

Leave a Comment